कंप्यूटर क्या है और ये कैसे काम करता है?

कंप्यूटर क्या है और ये कैसे काम करता है?

कंप्यूटर एक Electronic Device है जो हमारे द्वारा दिए हुए instructions के हिसाब से काम करता है और इस instructions को हम Computer Program या Software कहते है।  कोई भी computer 3 steps  में काम करता है वो है।  

Step 1 – Data को Input device या memory के through accept करना।  

Step 2 –  Data को process करना।  

Step 3 – जो भी result आता है उसे memory में store करना या output device के through उसे output करना। 

कंप्यूटर Raw Data को Accept करता है, उसे processing करता है फिर उसे Meaningful Information के form में Output करता है

Computer Kya Hai Hindi

Computer के Units   

Input Unit  – इन्ह device से हम data को कंप्यूटर में input करते है। उदहारण – Keyboard, Mouse, Microphone Etc.

Memory/storage Unit  – Computer सभी Data जैसे Files, Videos, Images को इन्ही devices में रखता है।  उदहारण – RAM, Hard Disk Etc.  

Processing Unit – ये Device data को processing करके meaningful result देते है।  उदहारण – CPU, GPU

Output Unit – इन्ह Device का काम होता है Result को output करना ताकि user result को देख, सुन या समझ पाए। उदहारण – Monitor, CPU, Printer Etc.

Software और Hardware  

1. Software – Software instructions (निर्देश) या program का collection(समूह) होता है इन्ही instructions को follow करके कंप्यूटर काम करता है।  

उदहारण – Microsoft Windows, Adobe Photoshop, Google Chrome

2. Hardware – Hardware Computer का Physical Part होता है और ये  Software के निर्देश अनुसार काम करता है।  

उदहारण – Random Access Memory (RAM), Motherboard, Central Processing Unit (CPU)

Operating System (OS) 

ये एक Software होता है जो User और Hardware के बिच आता है और हमारा hardware के साथ communication को आसान बनाता है ये हमें Graphical User Interface Provide करता है जिसकी मदद से हम visual form में कोई भी काम कर सकते है औऱ Operating system हमारे लिए उस visual डाटा को machine language या Binary Language (0 and 1) में convert करता है और उसे hardware तक पहुँचाता है यानि Operating System की मदद से हम बिना Binary Language  जाने  भी Computer का उपयोग कर सकते है। 

उदहारण – Microsoft Windows, Linux, Android   

Working Principle के Basis पर कंप्यूटर के प्रकार

1. Analogue Computer – ये analog signal पे काम करता है जो continuously change होता रहता है इन signal का कोई भी fixed value नही होता। 

2. Digital Computer – ये digital signal पे काम करता है जिसमे binary number system (0 and 1) में data को represent किया जाता है।  

3. Hybrid Computer – इसमें  Analogue computer और digital computer दोनों के features होते है। 

Performance के Basis पर कंप्यूटर के प्रकार 

1. Supercomputer – Supercomputer सबसे ज्यादा powerful computer है इनकी processing rate  और storage  काफी ज्यादा होती है।  इनका उपयोग scientific research और engineering field में किया जाता है।  

2. Mainframe computer – Mainframe computer कई ज्यादा software को एक साथ run कर सकता है और multiple users को support करता है।  इनका उपयोग Business Organization में किया जाता है।  

3. Minicomputer – Minicomputer में बड़े size वाले कंप्यूटर के features होते है पर उनसे size में छोटा होता है ये medium level computing perfomence देता है।  

4. Workstation – Workstation single user को support करती है।  इनका Processor fast होता होता है और RAM भी ज्यादा होता है। ये कोई particular work करती है।  

5. Microcomputer – Microcomputer में कई सरे काम कर सकती है और इनका उपयोग general public करते है। 

उदहारण – Laptop, Desktop

कंप्यूटर के Generations 

1. First Generation (1940 – 1956)

Computer के इस generation में  circuit के लिए vacuum tubes और memory के लिए magnetic drum का इस्तेमाल किया गया था ये काफी बड़े होते थे और इनके लिए एक पूरा रूम की जरुरत होती थी इसके साथ ये काफी expensive हुआ करते थे। इन्हे काम करने के लिए बहुत ज्यादा energy की जरुरत होती थी।   इनको machine language या binary language (0 and 1) program करना परता था और ये एक समय में एक ही problem को solve कर पति थी ये बहुत ज्यादा slow हुआ करते थे।  इनमे punched card के help से data को input किया जाता था और output printout के form में मिलता था। 

2. Second Generation (1956  – 1963)

Computer के second generation में Transistors ने vacuum tubes  की जगह ले ली Transistors की वजह से computer fast, cheap, small  हो गए और अब ये कम  energy में भी  काम कर सकते थे और इनमे  अभी भी punched card के help से data को input और  printout के form में  output  मिलता था।

3. Third Generation (1963 – 1971)

Computer के Third  generation में integrated circuit का उपयोग किया जाने लगा अब transistors का size छोटा हो चूका था और इन्हे silicon chip me डाल दिया गया था और इन्हे semiconductor कहा गया इसकी वजह से कंप्यूटर काफी ज्यादा fast और अच्छा performance देने लगा।  अब punch card की वजाये keyboard, operating system और application की के ह help से  computer  के साथ interact किया जाता था।

4. Fourth Generation (1971 – Present)

Computer के forth generation में microprocessor का उपयोग किया जाता है इसमें बहुत सरे integrated circuit को silicon chip के अंदर डाला जाता है इस generation Graphical User Interface का भी development होता है अब computer बहुत ज्यादा fast, reliable, effective हो चुके है और कंप्यूटर चारो तरफ दुन्या के हर कोने में फैल  गए। 

5. Fifth Generation (Present – Future)

Computer की fifth generation अभी सुरुवात हुई है इस generation में computing device Artificial Intelligence पे based होगी और ये खुद से सिखने के काबिल होंगे।

कंप्यूटर  की खासियत 

1. Speed – Computer बहुत ज्यादा fast होते है ये कुछ ही second में लाखो calculation  कर सकते है। 

2. Accuracy – Computer 100% accurate होते है यानि ये गलती नहीं करते।  

3. Diligence – Computer ना तो कभी bore होते है और ना ही वो थकते है ये एक ही speed से continuously काम  कर सकते ह।  

4. Reliability – Computer constantly performance देता रहता है।    

5. Storage – Computer हमें बहुत ज्यादा storage provide करता है जिसमे हम Files, Videos, Audios store करके रख सकते है।  

6. Versatility – Computer का उपयोग अलग अलग field में होता है जैसे Business, Medical, Research Etc. 

कंप्यूटर का उपयोग 

1. Education – Computer  Student के learning process को सरल बना देता है क्युकी वो कभी भी कोई भी information को access कर सकते है उन्हें किताबो के पन्ने पलटकर खोजने में समय को बर्बाद नहीं करना परता।  इसके साथ वो कोई भी चीज़ो को visual में सिख सकते है।  

2. Business – Report बनाना, Important Document को store करना, business activity को track  करना या client के साथ communicate, Computer का उपयोग हर काम के लिए होता है।  

3. Medical – Medical Field में Computer का उपयोग CT Scan, MRI, X-Ray जैसे process और important data का storage के लिए होता है।   

4. Entertainment – Movies और Music Streaming करना, Video Game खेलना ये सब हम computer से कर सकते है।   

5. Research – कोई भी research करने पर हमें  बहुत ज्यादा  information मिलता है  और अगर हमें उस information को use करके  result तक पहुचना है तो उसके लिए हमें उस information को analyse और  organized करना परता है तो इस काम के लिए भी Computer का उपयोग किया जाता है।

निष्कर्ष

आज के समय में Computer दुनिया का सबसे प्रभावसाली मशीन है और इसका उपयोग हर क्षेत्र में किया जाता है इसकी सबसे बड़ी खासियत ये है की ये programable है यानि हम इसे कोई भी instructions देके कुछ भी काम करवा सकते है। 

  • आविष्कारक एक हिंदी वेबसाइट है जिसमे हम इनफार्मेशन को सरल भाषा में शेयर करते है जिससे की लोगो को समझने में आसानी हो हम इश वेबसाइट में टेक्नोलॉजी , साइंस, बिज़नेस से रिलेटेड इनफार्मेशन शेयर करते है

Leave a Reply

Your email address will not be published.