What is Internet In Hindi?

What is Internet In Hindi?

इन्टरनेट एक global computer नेटवर्क है  जिससे कड़ोरो device connected है और ये device  TCP/IP(Transmission Control Protocol/Internet Protocol) का use करके  एक दुसरे से communicate करते है। इन्टरनेट में connected सभी device को  एक unique address assign होता है जिसे IP Address कहते है (IP Address –192.195.150.8)।

इन्टरनेट की सुरुवात

इन्टरनेट की सुरुवात 1960 में  U.S Department of Defense network में हुई जिसका उदेश्य था scientist और university के professor को एक साथ जोड़ना और इसे ARPANET कहा जाता था।

1970 में  Robert Kahn और  Vinton Cerf ने Transmission Control Protocol (TCP)और Internet Protocol(IP) को develop किया। ये एक standard communication rule है  जिसको follow करके इन्टरनेट से connected सभी devices एक दुसरे के साथ communicate करते है  1 January 1983 को ARPANET ने TCP/IP को अपना लिया और जल्द ही  एक Global network बन गया।

Internet Service Providers (ISP)

ये वो  company होती है जो हमें internet का access provide करती है। इसके लिए वो हमें एक unique address provide करती है जिसे हम IP address कहते हैIP Address communication के लिए IP (internet protocol) का use करती है।

Internet कैसे काम करता है 

Internet के सभी device एक दुसरे से दो तरीके से connect होते है wire के साथ और wirelessly और ये device एक दुसरे से communicate करने के लिए TCP/IP (Protocol) का use करती है। TCP/IP  Model में 4 Layer होते है। 

 1. Application Layer – इस layer से user  data या request को  send या receive करता  है और इसमें HTTP, FTP, SMTP जैसे protocol use होता है। 

Things Used – Software, Application

 2. Transport Layer – इस layer में data small pieces में split हो जाता है इसके एक piece को हम packet या data packet कहते है और इसमें Port Number भी add किया जाता है। इसमें TCP (Transmission Control protocol) का use होता है। यही layer receiving end में उन packet को एक साथ जोड़ता है। 

Things Used – Gateway, Firewall

 3. Internet Layer – इस layer में उन packets को Destination का IP Address assign किया जाता है। ताकि वो सभी packets सही जगह में पहुच सके। इसमें  IP (Internet Protocol) का use होता है।

Things Used – Router

 4. Network Access Layer – इस layer के through packets destination तक पहुचते है।  

Things Used – Hub,Switch, Cable, Repeater, Satellite, Transceiver, Modem   

इन्ही 4 layer के help से data internet के through एक computer से दुसरे computer में जाता है 

Internet Kaise Kaam Karti hai

Services जो हमें इन्टरनेट Provide करती है

1. World Wide Web (WWW) – World Wide Web में हम  कोई भी  information को पढ़ या share कर सकते है। World Wide Web के जिस place में हम information को पढ़ते या share करते है उसे हम website कहते है। World Wide Web में visit करने के लिए हेम एक software की जरूरत होती है जिसे हम Web Browser कहते है।

2. Electronic mail (Email) – Email की मदद से हम messages को different कंप्यूटर के बिच exchanges कर सकते है।

3. Instant Messaging – ये messages को instantly दुसरे user को  send करता  है (दोनों user को एक ही server में login रहना compulsory है)

4. Voice Over Internet Protocol (VoIP) – इसकी मदद से हम voice call को इन्टरनेट के through कर सकते है

5. Videotelephoney – इसके help से हम video and audio signal को एक कंप्यूटर से दुसरे कंप्यूटर में भेज  सकते है इससे  हम video conferencing कर सकते है।

6. Telnet – Telnet के help से हम remote कंप्यूटर को access और use कर सकते है।

7. FTP – FTP हमें file को कंप्यूटर से server में upload करने  में या server से file download करने में help करता है।

8. Ecommerce – हम Ecommerce के help से Online shopping, Internet Banking, Online investing या trading जैसे services use कर सकते है 

निष्कर्ष

आज पूरा दुनिया इन्टरनेट से connected है। अब information को खोजना आसन हो गया है। हम इन्टरनेट की मदद दूर में बैठे किसी भी इंसान से बात कर सकते है यानि इन्टरनेट ने पूरी दुने को एक साथ ला दिया है। 

  • आविष्कारक एक हिंदी वेबसाइट है जिसमे हम इनफार्मेशन को सरल भाषा में शेयर करते है जिससे की लोगो को समझने में आसानी हो हम इश वेबसाइट में टेक्नोलॉजी , साइंस, बिज़नेस से रिलेटेड इनफार्मेशन शेयर करते है

Leave a Reply

Your email address will not be published.